जम्मूकश्मीर नहीं इस राज्य के लिए आपको वीजा बनवाना पड़ता है पढे ?

जम्मूकश्मीर नहीं इस राज्य के लिए आपको वीजा बनवाना पड़ता है पढे ?





जम्मू - कश्मीर के हालातो से आप अच्छी तरह से वाकिफ है लेकिन अगर आप भारत के नागरिक है तो आप आसानी से जा सकते है लेकिन आप नागालैंड में बिना  इनर लाइन परमिट के नहीं जा सकते है यहां पर केवल  स्थानीये निवासियों को घूमने की परमिसन है ये इनर लाइन  परमिट देश के आंतरिक वीजा जैसा ही दस्तावेज है


               
                   वैसे ये पहले जम्मू कश्मीर में भी लागु था पर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के आंदोलन के बाद जम्मू कश्मीर से तो हटा लिया गया लेकिन नागालैंड में आज भी ये सिस्टम लागु है
हालाँकि अब ये मुद्दा राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा का विषय बना हुवा है |
हाल ही में भाजपा नेता अश्वनी उपाध्याय ने इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचे |
इनके साथ ही दो सांसदों ने लोकसभा में भी इस सिस्टम के मुद्दे को उठाया है | 


देश में इस समय में सिर्फ नागालैंड में ही ये सिस्टम लागु है | बंगाल ईस्टर्न फ्रिंटयर रेगुलशन , 1873  के अंतर्गत ये यवस्था एक सीमित अवधि के लिए किसी जगह को संरक्षित, प्रतिबंधित क्षेत्र में दाखिल होने के लिए अनुमति देता  है  यहां पर जाने के  अनुमति   लेना पड़ता है आप बिना  इनर लाइन परमिट के नागालैंड में नहीं जा सकते है 

नागालैंड के बारे में कुछ खास बाते 

नागालैंड का बहुत सारा हिस्सा पहाड़ी है 
नागालैंड का कुल नागालैंड का क्षेत्रफल 16579 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है।
वर्तमान समय में यहां पर अंग्रजी भाषा सबसे अधिक बोली जाती है और यहां पर धर्म के हिसाब से हिन्दू मुस्लिम और इसाई धर्म मानने लोग है | 
यह पर अंग्रजो को बोलबाला जायदा रहा था इस कारन यहां इसाई  धर्म के लोग बहुतायत है 

मौसम 

नागालैंड में मौसम की बात करे तो यहां का मौसम काफी सुहाना और हरा भरा ही क्योकि यहां पर पहाड़ी इलाका है इस कारन यहां पर गर्मी नहीं पड़ती है 



आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।



Post a Comment

0 Comments